Tagged: हिंदी

0

उठो द्रौपदी

उठो द्रौपदी उठो द्रौपदी वस्त्र संम्भालो अब गोविन्द न आयेंगे। कब तक आस लगाओगी तुम बिके.. हुए अखबारों से। कैसी रक्षा मांग...